रूसी युवा का दावा कि वह मंगल गृह से आया है और धरती पर उसका पुनर्जन्म हुआ है

क रूसी युवा के दिलचस्प दावों ने इन दिनों इन्टरनेट हिला रखा है. बोरिस्का किप्रियानोविच नामक इस 20 वर्षीय लड़के का कहना है कि वह मंगल गृह का निवासी है और धरती पर उसका दूसरा जन्म हुआ है. आमतौर पर इस तरह के दावे सिरे से ही नकार दिए जाते हैं लेकिन इस लड़के के दावे को लोग एकदम से खारिज नहीं कर पा रहे हैं और वजह है अन्तरिक्ष और सोलर सिस्टम के बारे में उसका अद्भुत ज्ञान ! ये आश्चर्यजनक इसलिए हैं क्योंकि उसने इसके बारे में न तो कोई विशेष पढ़ाई की है और न ही किसी ने उसे बताया है.

रूस के वोल्गोग्राद में रहने वाले बोरिस्का के मातापिता के अनुसार यह बच्चा बचपन से ही उन्हें हैरानी में डालता रहा है. पैदा होने के मात्र दो सप्ताह के भीतर ही वह बिना किसी सहारे के अपना सिर स्थिर रख लेता था और कुछ ही महीनों में बोलना सीख गया था. डेढ़ साल का होते होते तो वह न सिर्फ पढ़ लेता था बल्कि लिखना और पेंटिंग करना भी सीख गया था . आइये देखते है पूरी घटना

वह बताता है कि वह मंगल गृह पर एक पायलट था और पहले भी धरती पर आ चुका है. वह कहता है कि अतीत में हुई भीषण न्यूक्लियर तबाही के बावजूद मंगल गृह पर अब भी एलियन सभ्यता अस्तित्व में है. वह बताता है कि मंगल गृह के लोग लगभग 7 फुट लम्बे होते हैं और अंडरग्राउंड रहते हैं. वे सांस लेने के लिए कार्बनडाइऑक्साइड का इस्तेमाल करते हैं, ये कहा तक सच है यह तोह भगवन ही जाने |

बोरिस्का की माँ, जो कि एक डॉक्टर हैं, के अनुसार उन्होंने उसे कभी अन्तरिक्ष के बारे में कुछ नहीं बताया लेकिन वह बचपन से ही अपने आप ही मंगल गृह, सौर मंडल और एलियन सभ्यताओं के बारे में बातें करने लगा था. हद तो तब हो गई जब उसने कहना शुरू किया कि पिछले जन्म में मंगल गृह पर रहता था, अब यह सच है या झूठ यह हम दावे के साथ नही कह सकते |

You may also like...

error: Content is protected !!